Success Businessman Story in Hindi – Steve Jobs | Bill Gates

June 13, 2018 | By Anirudh | Filed in: Business tips.

Success businessman story in Hindi : “कामियाब होने के लिए ; Degree की जरुरत नहीं पड़ती”-

India में ज्यादातर अगर कोई अच्छे number से school qualify कर लेता है , तो या तो उसे Engineering या फिर Doctor के लिए तैयार होने को कहा जाता है , चाहे उसका interest हो या ना हो | चाहे जिंदिगी चले या ना चले , पर हमे society के साथ चलना है , चाहे interest हो या ना हो लेकिन engineering पढ़ना है | आज कल तो यही trend है जनाब !

लेकिन आज मैं आपको जिस successful business story के बारे में बताने जा रहा हु शायद ये आपके मानसिकता को थोड़ा change कर दे!

आज का मेरा ये article उन successful businessman को लेकर है जो अपने college में dropout रहे थे | और आज ये दुनिया के सबसे बड़े enterprise, incorporation या फिर company के मालिक है |

आज का मेरा ये success businessman story in hindi आपको किताबी दुनिया से बाहर ले जाकर practical दुनिया की ओर रुख करवाएगा , जहा पर आपके पास शोहरत और कामयाबी दोनों होंगी | बस आपको अपने अंदर एक बार झाक कर देखना है और ये तय करना है की आपको असल में क्या चाहिए|

तो चलिए शुरू करते है आज का success businessman story in hindi !

Success businessman story in hindi

आज मैं आपको 3 सबसे popular entrepreneur की story बताऊंगा –

* Mark zuckerberg (founder and CEO of Facebook Inc.)

* Steve jobs (founder of Microsoft co.)

* Steve jobs (chairman, CEO, co-founder of Apple Inc.)

Mark Zuckerberg [founder of Facebook inc.]

Mark की कहानी –

छोटी उम्र से ही ये computing का  शौक रखते थे | इसलिए वो छोटी उम्र से ही computer programming करने लगे थे | उनके father उन्हें programming करने में मदद करते थे | इन्होने 12 साल की उम्र में एक messenger program को design किया था जिसका नाम था “Zuck net messenger” | इस program का use वो अपने father से office में बात करने के लिए किया करते थे |

फिर जब वो Harvard university में गए तो उन्हें ‘programming expert’ के नाम से जाना जाने लगा | उन्होंने harvard university में “Facemash” नाम की एक programming application बनाई थी जिसमे college students के database रखे जाते थे | फिर धीरे धीरे ये program college में famous होने लगा |

 

फिर उन्होंने बनाया “The facebook” जो सिर्फ harvard university में ही नहीं बल्कि आस पास के कई universities में भी पसंद किया जाने लगा | फिर college dropout करने के बाद मार्क ने “The facebook” को “Facebook” के नाम से rename किया |

और आज result आपके सामने है | आज Facebook inc. दुनिया की सबसे बड़ी social networking site है |

success businessman story in hindi

success businessman story in hindi

तो आखिर ऐसा क्या था जो मार्क ने facebook को एक बिज़नेस का रूप दिया ?

मार्क जब कॉलेज (harvard university) में थे तो उन्होंने एक ऐसा प्रोग्राम design किया था जो कॉलेज students को जोड़ता था | अलग अलग Department के Students मार्क के प्रोग्राम के जरिये एक साथ जुड़ते थे | ख़ास बात ये थी की किसी एक department के लोग आसानी से एक दूसरे से जुड़ जाते थे , जिसे आज facebook में ‘mutual फ्रेंड्स’ कहा जाता है |

बस मार्क ने इसी को एक बड़ा रूप दिया और दुनिया के लोगो को जोड़ा | मार्क ने एक ऐसा database ready किया जहा दिए गए contact details, naam, occupation के जरिये लोग आसानी से mutually connect हो जाते है |

 

Watch the video when Mark designed his first program in childhood –

credit

Inspiration we can learn from Mark-

मार्क ने 28 की उम्र में $9.4 billion का net worth बना लिया था | और ये सब इसलिए हुआ क्युकि उन्होंने हमेशा अपने passion को ही life में अहमियत दी | जिस उम्र में स्टूडेंट्स कॉलेज में पढाई करते है और दिन रात रट्टे लगाने में व्यस्त रहते है , उस उम्र में Mark Harvard university के data पर program design करते थे ; और ये उनका passion था |

उनका passion ही था जो उनसे ये सब कराता था | Mark से हमे ये inspiration मिलता है की हमे हमेशा अपने passion को जीना चाहिए | जरुरी नहीं की हर कोई सिर्फ Maths, Chemistry, Botany या फिर Accountancy के लिए ही बना है | कुछ minds Mark Zuckerberg की तरह भी होते है जो 12 साल की उम्र में भी programming बनाते है !

कैसे पहचाने अपने passion को –

एक sentence में इसका practical answer होगा > वो काम जिसे तुम बिना salary के भी करना चाहोगे , चाहे दिन हो या रात |

# मार्क के बारे में और जानकारी पाने के लिए और उनके स्टेटस पढ़ने के लिए – click here

 

Bill Gates [founder of Microsoft Co.]

इनकी कहानी –

इनके माता पिता इन्हे Law पढ़ाना चाहते थे , पर इन्हे programming में interest था | School के दिनों में ये इनके friend Paul Allen [Microsoft co-founder] के साथ School computer lab में ज्यादा से ज्यादा time spent करते थे | ये दोनों हमेशा पढाई छोड़ कर computer lab में programming और software के साथ छेड़ छाड़ किया करते थे |

फिर school authority ने इन् दोनों पर computer lab में enter करने पर पाबंदी लगा दी थी | फिर बाद में Bill gates ने एक program बनाया जो school के time table को maintain करने में काम आता था |

जिस उम्र में आज कल बच्चे games खेलते है , इन्होने उस उम्र में एक TIC TAC TOE नाम का game design किया जिसे computer पर खेला जा सकता था ; और तब वो सिर्फ 13 साल के थे |

फिर जब Gates 15 की उम्र में थे तब उन्होंने अपने दोस्त Alen के साथ एक Traffic signal पर program बनाया जो Traffic signals को schedule और manage करता था | इस प्रोग्राम के लिए उन्हें $20,000 मिली जो उनकी पहली कमाई थी |

फिर Harvard university से बिना graduation किये उन्होंने Microsoft को एक company के तौर पर register किया | और आज Microsoft Co. एक multi national technology company है जो computer software, hardware, electronics जैसे products के साथ deal करती है | Microsoft आज world की largest PC software कंपनी है |

Inspiration we can learn from Bill gates-

Bill gates Forbes के list में अपना नाम दर्ज़ कर चुके है as world’s richest person | इनकी ख़ास बात ये है की ये लोगो की help करना बहुत पसंद करते है | ये हर साल करोड़ो रुपये donate करते है | ये लगभग हर रोज़ 102 crore रुपये कमाते है |

इनका कहना है की ” अगर आप एक गरीब घर में जन्मे हुए है तो ये आपकी गलती नहीं है , लेकिन अगर आप गरीब रहकर ही मर जाते है तो ये आपकी गलती है “.

 

Success Businessman Story in hindi

Steve Jobs [co-founder, CEO of Apple Inc.]

Steve की business success story-

इनके माता पिता इन्हे सबसे महंगे कॉलेज ‘Read’ में पढ़ाते थे , जिकी फीस देने में उन्हें काफी प्रॉब्लम होती थी | और स्टीव ये सब देख नहीं पाते थे इसलिए उन्होंने part time job शुरू किया ताकि कुछ pocket money earn कर सके |

फिर स्टीव ने अपने दोस्त Wozniak के साथ मिलकर अपने पिता के garage में ‘MAC Intosh operating system’ design किया | अब वो इस operating system को किसी कंप्यूटर पर launch करना चाहते थे और उसे APPLE नाम देना चाहते थे |

लेकिन finance की कमी के कारण वो ऐसा नहीं कर पा रहे थे | लेकिन उनके एक दोस्त Mike Markulla ने उनकी मदद की | फिर सिर्फ 20 साल की उम्र में उन्होंने APPLE की शुरुवात की | स्टीव और उनके दोस्तों ने मिलकर APPLE को एक विशाल company का रूप दिया जिसमे 3000 से ज्यादा कर्मचारी भी काम करने लगे थे |

लेकिन फिर कुछ आपसी मत-भेदो के कारण board of directors ने स्टीव को अपने ही कंपनी से बाहर निकाल दिया | ये उनके लिए बहुत बड़ा सदमा था | पर स्टीव ने हार नहीं मन और अपने बलबुते पर ‘PIXLR’ और ‘NEXT ink’ कंपनी launch किया |

 

और वहां दूसरी तरफ स्टीव के ना होने से APPLE कंपनी पूरी तरह से loss में जाने लगी थी | फिर APPLE के board of directors ने स्टीव को दोबारा कंपनी join करने का न्योता भेजा | फिर बाद में Steve ने APPLE और PIXEL को जोड़ा |

और फिर धीरे धीरे स्टीव ने iPhone, iPad, iMac जैसे high quality products launch किये जो आज भी प्रयोग में आते है और आने वाले future में भी इनका demand बढ़ता रहेगा |

2011 को pancreatic cancer के कारण Steve का निधन हो गया | लेकिन आज भी अगर कोई Apple company की बात करता है तो Steve का नाम सबसे पहले याद किया जाता है |

स्टीव ने अपने माता पिता को तकलीफ में देखते हुए अपना कॉलेज drop किया और अपने dream business से जुड़ गए | उनका सपना था MacIntosh OS को एक computer system में launch करना | और उन्होंने अपने सपने को पूरा किया | उनके पास finance की कमी थी ; लेकिन वो कहते है ना ” जिनके इरादे नेक होते है खुदा उनके लिए कोई न कोई रास्ता जरूर निकालता है “.

Conclusion-

उम्मीद करता हु की आज के success businessman story आपको पसंद आये होंगे | ये success stories इस बात को सिद्ध करते है की कामियाब होने के लिए degree की जरुरत नहीं पड़ती | अगर आपके पास skills और creative mind है और आपने अपने passion को पहचान लिया है ; तो आप किसी भी सिखर तक पहुंच सकते हो !

ऐसे और भी interesting business articles के लिए आप हमारे website पर visit करते रहे www.anicow.com !

 

# Best entrepreneur books you must have in your book shelf – READ HERE

Related Post


Tags: , , ,

Comments are closed here.